राज्य

एसडीएम रुड़की व विधायक काजी निजामुद्दीन ने भी पीडि़तों का हाल जाना

Publish Date: 08-11-2020 Total Views :38

एसडीएम

मंगलौर/मनव्वर क़ुरैशी।

मंगलोर कस्बे में एक मिठाई की दुकान में डोमेस्टिक सिलेंडर फटने से करीब एक दर्जन लोग घायल हो गए। यही नहीं जब यह धमाका हुआ, तो आसपास से गुजर रहे लोगों को भी चोटें आई, बाद में गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को आनन-फानन में सिविल अस्पताल रुड़की भिजवाया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद 9 लोगों को कोरोनेशन अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया, जबकि एक युवक को एम्स में रेफर किया गया, उसके साथ ही 3 लोगों का उपचार सिविल अस्पताल रुड़की में ही चल रहा है। घटना के बाद एसडीएम रुड़की व विधायक काजी निजामुद्दीन ने भी पीडि़तों का हाल जाना। इस घटना ने क्षेत्र को दहला कर रख दिया है।

बताया गया है कि रोजाना की भांति मंगलौर में मस्जिद के सामने जैन स्तम्भ के पास बालाजी स्वीट्स की दुकान में कर्मचारी काम कर रहे थे। इसी बीच दोपहर के समय पास में ही रखे डॉमेस्टिक सिलेंडर में अचानक आग लग गई और देखते-देखते वह फट गया। यह हादसा इतना भयानक था कि तीन मंजिला दुकान के साथ ही आसपास की दुकानों के भी परखच्चे उड़ गए। इस हादसे में करीब एक दर्जन से ज्यादा लोग झुलस गए। जिन्हें बारी-बारी से पुलिस की मदद से उपचार के लिए अस्पताल में भिजवाया गया, जहां चिकित्सकों ने 10 लोगों की हालत को गंभीर देखते हुए उन्हें रेफर कर दिया, जबकि 3 लोगों का उपचार सिविल अस्पताल के वार्ड में ही चल रहा है। जिन 10 लोगों को सिविल अस्पताल के चिकित्सकों द्वारा रेफर किया गया है, उनकी हालत गंभीर बताई गई है। साथ ही बताया गया है कि उक्त गंभीर घायल लोग 70 प्रतिशत से ज्यादा झुलसे हुए हैं। दिल दहला देने वाली इस घटना से कस्बे में सन्नाटा पसरा हुआ है और घायलों के परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है। इस घटना के बाद जेएम रुड़की ने घटनास्थल का दौरा किया और मरीजों का हाल जाना। इसके साथ ही मंगलोर विधायक काजी निजामुद्दीन भी मरीजों के बीच पहुंचे और उनकी कुशलक्षेम जानी। कुल मिलाकर इस घटना ने क्षेत्र को दहला कर रख दिया है। रेफर होने वाले घायलों में दीपचंद पुत्र नंदू लाल (28) निवासी बाराबंकी, साकिब पुत्र सलीम (26) निवासी ज्वालापुर गाड़ोवाली, अशरफ पुत्र (30) निवासी बंदा कॉलोनी, मंगलौर, मिंटू पुत्र धर्मपाल (24) निवासी थिथकी, अमरीश पुत्र आत्माराम (30) निवासी थिथकी, पंकज पुत्र ओमपाल (33) निवासी थिथकी, अक्षय पुत्र मुकेश (30) निवासी मुंडेट, सचिन पुत्र मदन पाल (27) निवासी मुंडेट, सूरज पुत्र पप्पू (30) निवासी बाराबंकी व एम्स में भर्ती होने वाला युवक कन्हैया पुत्र नीरज (14) निवासी मलानपुरा, मंगलौर तथा सिविल अस्पताल के वार्ड उपचार कराने वाले लोगों में फरीद पुत्र एजाज (34) निवासी मदीना कॉलोनी, मंगलौर, शाहराज पत्नि नोशाद (40) निवासी नगला कुबड़ा व नौशाद पुत्र अशरफ (42) निवासी नगला कुबड़ा शामिल है।