राज्य

नशा ओर मारपीट करने से परेशान पत्नि ने पति को उतारा मौत के घाट

Publish Date: 08-11-2020 Total Views :31

नशा

रुड़की/मनव्वर क़ुरैशी।पति के नशा करने और उसके बाद मारपीट करने से परेशान पत्नी ने अपने पति का गला दबाकर उसे मौत के घाट उतार दिया, यही नहीं उसके शव को कदम दूर ले जाकर फेंक दिया और उस पर पॉलीथिन डालकर छुपा दिया, ताकि किसी को यहां शव पड़े होने की सूचना ना मिल सके। पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। सिविल लाइन कोतवाली में घटना का खुलासा करते हुए एसपी देहात स्वप्न किशोर सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि 6 नवंबर को सुबह के समय झबरेड़ा पुलिस को सूचना मिली थी कि बिजली घर के पीछे एक अज्ञात व्यक्ति का शव पड़ा हुआ है। सूचना पर झबरेड़ा थानाध्यक्ष पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और मृतक की शिनाख्त शहनवाज पुत्र शमशाद निवासी ग्राम शेखपुरा कदीम थाना कोतवाली सहारनपुर के रूप में की, जो 2 माह से अपने बहनोई अहसान के घर पर नूर बस्ती कस्बा झबरेड़ा में रह रहा था। 18 अक्टूबर 2020 को अहसान ने ही मुस्कान पुत्री शहीद निवासी मोहल्ला कस्बा कांधला जिला शामली से शहनवाज की शादी करवाई थी। शव के निरीक्षण में गले पर चोट के निशान पाए गए तथा, पीठ से घसीटा गया था। अहसान की तहरीर पर पुलिस ने विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी। हरिद्वार एसएसपी के दिशा निर्देश पर गठित टीम को जांच पड़ताल में मृतक की पत्नी मुस्कान पर शक हुआ। पूछताछ में मुस्कान ने बताया कि 5 नवंबर को भी उसका पति नशे की हालत में था, उस दिन मेरे पति का जीजा तथा देवर मेरे ससुराल गए थे और घर में मैं और मेरे पति की बहन व उसके बच्चे थे, जो मकान में बने पीछे कमरे में सो रहे थे। रात्रि में भी मेरे पति नशे की हालत में घर आया और आते ही उसने मेरे साथ मारपीट की और उसके बाद सो गया। मैं पति की इन हरकतों को लेकर पहले से ही परेशान थी। रात्रि करीब 10:30 बजे जब मेरा पति होश में नहीं था, तो मैंने गुस्से में आकर उसका गला दबाकर उसकी हत्या कर दी और शव को घर के पास ही 10 कदम की दूरी पर खाली प्लाट में ईंटों के पास फेंक दिया और रेहड़ी की पॉलीथिन उस पर डाल दी ताकि शक न हो। झबरेड़ा पुलिस ने मुस्कान को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया, जिसके बाद से यह घटना कस्बे में चर्चा का विषय बनी हुई है। पुलिस टीम में सीओ अभय सिंह, थानाध्यक्ष रविंद्र कुमार, दरोगा चिंतामणि सकलानी, सुनील रमोला, महेंद्र पुंडीर, हेड कांस्टेबल राजेंद्र सिंह के साथ ही कांस्टेबल नरेश, नूरहसन, मोहित, विकास, राजेंद्र सिंह, एपी रणवीर, देवेन्द्र, गीता, आशा व पूजा शामिल रहे। चंद घंटों में ही घटना का अनावरण करने पर पुलिस टीम को एसएसपी ने 2500 का नगद इनाम देने की घोषणा की।